« »

दोहे …. राष्ट्र के नाम

1 vote, average: 4.00 out of 51 vote, average: 4.00 out of 51 vote, average: 4.00 out of 51 vote, average: 4.00 out of 51 vote, average: 4.00 out of 5
Loading...
Uncategorized

देश न चाले धरम बिन, धरम देश री सांस् !
बिना धरम सब कुछ मिट्यो , धर्म देश री आस!!

राज चाले धर्म सू, बिन धर्मा सब पाप!
धर्म रे मारग चालियाँ, हो जासी सब आप !!

धर्म अधरम बस विश्व में , केवल दो ही बोल !
अधरम बोले जीभ सू, धर्म तो दिल सु बोल !!

गहरी नीव धर्म री , निरपेक्षा मत बोल !
धर्म बिना न पल सरे , मन री खिड़की खोल !!

धर्म बिना क्या राज है , धर्म देश री नीव !
धर्म बिना सब व्यर्थ है, ये निर्जीव सजीव !!

सोणों मुखड़ो रूपसी , मन मोहन छब देख !
आशाओं का समदरा, धीरज धरे विशेख !!

मोदी जी काई करे , श्वेत वस्त्र सा रूप !
या काजल की कोठरी, ऊपर तीखी धूप !!

गुजराता रो डीकरो, धरयो नरेन्द्र नाम.
साचो हिन्दू एक है, करे देश रो काम .

अमेरिकी वीजा नहीं ,नहीं जरूरत आज .
अब भारत डरता नहीं, अब मोदी का राज

राम करे रामो मिले, देख देख हरसाय ।
शेर बकरी घाट पर ,संग संग पीवण जाय । ।

पीवण ने पाणी घणों , खावन रा भण्डार ।
ऐसा दिन है लावना , सुण मोदी सरकार ॥

छक्के छूटे पाक के , मन ही मन घबराय .
न जाने किस गेट से मोदी जी आ जाय

मत पालो थे पाक ने, सीधा मारो जूत !
बात्यां सु कद मानसी , ए लात्याँ रा भूत !!

विपदा संग संग रेंवती , आती देर सवेर !
ज्यों बकरे की जाननी, काल मनावे खैर !!

धीरज धर्म निभाइए , मिश्री जैसा होय !
कच्चे कच्चे छाडिये, मीठा सुपना पोय !!

2 Comments

  1. Vishvnand says:

    Lovely all… Hearty commends..! 🙂

  2. dromvoime says:

    nino illusions leonard http://www.konniydon.ru/communication/forum/user/326626/ pay centuries apollo velvet whale

Leave a Reply