« »

मशहूरबदनाम

0 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 5
Loading...
Hindi Poetry

मुम्बई की बारिश मशहूर भी है
तो बदनाम भी है
कहीं खुले रस्ते मस्ती के कई
मगर जाम भी हैं

छईं छपाक कर के लोग हर
आफ़त भुलाते यहाँ
नल-नाली की साँठ गाँठ में
सब धोते~नहाते यहाँ

सीना ठोंकती सरकार के बद
इंतज़ाम भी हैं
मुम्बई की बारिश मशहूर भी है
तो बदनाम भी है

क्लिक क्लिक सब फोटू खींचे
मौसम सुहाना यहाँ
एहतियात न बरती तो दुर्घटना
दर्दीला बयाना यहाँ

तर ब तर होने के हैं सुख तो
सर्दी~ज़ुकाम भी हैं
मुम्बई की बारिश मशहूर भी है
तो बदनाम भी है

कहीं खुले रस्ते मस्ती के कई
मगर जाम भी है
मुम्बई की बारिश मशहूर भी है
तो बदनाम भी हैं

~रीतेश सब्र 🌩🌧⛈

Leave a Reply