« »

नहीं कहता की तुम्हारे साथ जहा होगा

1 vote, average: 2.00 out of 51 vote, average: 2.00 out of 51 vote, average: 2.00 out of 51 vote, average: 2.00 out of 51 vote, average: 2.00 out of 5
Loading...
Uncategorized

नहीं कहता की तुम्हारे साथ जहा होगा
पर मेरा साथ वहा होगा

होसकता है रास्ते मे कांटे भी हो मगर
मेरे साथ हमसफ़र ख्वाबो का खूबसूरत जहा होगा

तकलीफ होगी तुम्हे तक़ल्लुफ़ भी होगा
मगर गिरोगे जब तो मेरा हाथ भी सहारे के लिए वहा होगा

ख़ुशी मे जमाना साथ होगा जान लो
गम मे मगर रोने को मेरा कन्धा भी वहा होगा

ऐसा नहीं की मैं चाँद ला सकता हु मगर
चाँद दूर ही सही हमारे साथ साथ होगा

मैं आज कुछ नहीं हु जनता हु मगर
जो कुछ हुआ होगा कल वो तुम्हारा होगा

इस बार वादा ये ही करूँगा सनम की
अब मेरा साथ तेरे साथ सदा होगा

Leave a Reply