« »

शराबी शबाब पे…..

0 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 5
Loading...
Hindi Poetry

शराबी शबाब पे…..

शराबी शबाब पे लटों को और बिखर जाने दो

….मदहोश लम्हों को …ज़रा और संवर जाने दो

……..बस आप रहें, शब रहे ..और सहर हो न कभी

………….इक रात ऐसी भी ..आगोश में गुज़र जाने दो

सुशील सरना

Leave a Reply