« »

सैंटा क्लॉज़ की पोटली

1 vote, average: 3.00 out of 51 vote, average: 3.00 out of 51 vote, average: 3.00 out of 51 vote, average: 3.00 out of 51 vote, average: 3.00 out of 5
Loading...
Hindi Poetry

✏X-mas X-press✏

सैंटा क्लॉज़ की पोटली
जम के भरी हुई टोटली

सब के लिए सब ने दिये
सीक्रेट तोहफ़े छुपे-छुपे
जिसने जो है नाम लिखा
सैंटा थमाए दिखा दिखा

माल है तय ये नसीब का
अमीर का या ग़रीब का
पाये जो, रहे खिला खिला
रह जाए तो, न गिला गिला

पाए जो तू, तो न यूँ, इतराए
दुआ भरे, सैंटा ही, भिजवाए
मोहब्बत से ईसा की है नूरी
इस क्रिसमस दुआएँ हो पूरी

रहे न रंज कहीं भी रिमोटली…

सैंटा क्लॉज़ की पोटली
जम के भरी हुई टोटली

~सब्र रीत

✏X-mas X-press✏

Leave a Reply