« »

तुझसे प्यार करता हूँ ….! (Geet)

1 vote, average: 4.00 out of 51 vote, average: 4.00 out of 51 vote, average: 4.00 out of 51 vote, average: 4.00 out of 51 vote, average: 4.00 out of 5
Loading...
Hindi Poetry, Podcast

तुझसे प्यार करता हूँ ….!

तुझसे प्यार करता था,
तुझसे प्यार करता हूँ
प्यार मेरा तुम भूल भी जाओ,
नही मगर अब डरता हूँ ……!

प्यार ने तेरे मुझे सिखाया,
प्यार जहाँ से भी करना.
हरदम अपने प्यार के खातिर
काम बड़े करते रहना,
काम भले करते रहना ……!

दिल तो अब है ये तेरा,
तेरे सुख में सुख मेरा,
तुने पुकारा “प्यार” मुझे .
मेरे दिल ने सब पाया ……!

गम तो नही अब मुझे है इसका,
तू मेरी गर हो न सके.
शायद किसी और की होकर
दुनिया में तू सुखी रहे,
सपनों की महफिल से मेरी,
तुझे कोई ना छीन सके,
प्यार मेरा ना छीन सके ….!

तुझसे प्यार करता था,
तुझसे प्यार करता हूँ
प्यार मेरा तुम भूल भी जाओ,
नही मगर अब डरता हूँ …

                        “विश्व नन्द”

6 Comments

  1. kusum says:

    Very sweet and touching. Straight from the heart. Dil se.
    What is Sound Cloud? Cannot listen to the song sung by you.
    Kusum

  2. sonal says:

    A very beautiful song sir.
    regards
    sonal.

  3. sushil sarna says:

    waaaaaaaaaaaaaaaaaah sir ye huee n baat……dhadknain aaj bhee vohee geet gaatee hain….baate lamhon kee kuch baatain zahan men gungunaatee hain…..is sundr svar ke geet hetu haardik badhaaee SIR jee

Leave a Reply