« »

हम तो ये जाने हम कई मौत हैं मरे शकील…..

1 vote, average: 4.00 out of 51 vote, average: 4.00 out of 51 vote, average: 4.00 out of 51 vote, average: 4.00 out of 51 vote, average: 4.00 out of 5
Loading...
Uncategorized

वो बेवफा है की बावफ़ा वो जाने
उसका अपना इमां-ओ-खुदा वो जाने

हम तो ये जाने की आँखें उसकी हैं
जिसने पी हो कभी बेइंतेहा वो जाने

हम तो हवाओं पर भी लिखते हैं ग़ज़ल
कैसी है उनके शहर की आब-ओ-हवा वो जाने

हम तो करते हैं सलाम जब भी वो मिले
सर झुका कर गुज़रना हो उनकी अदा वो जाने

हम तो ये जाने हम कई मौत हैं मरे शकील
और किस जुर्म कि दी है मुझे सज़ा वो जाने

2 Comments

  1. siddha nath singh says:

    jahan “kee” hona chahiye vahan “ki” aur jahan “ki” hona tha vahan “kee” Kyon bhai Shakeel!

  2. Vishvnand says:

    Vaah, sundar andaaz kii aapkii ye rachanaa hai Shakeel
    Badhaaii de rahaa, padh aur khush hokar ye dil ….!

Leave a Reply