« »

छोटा सा आदमी

0 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 5
Loading...
Hindi Poetry

छोटा सा कांटा बहुत दर्द देता है
छोटी छोटी बाते छोटे व्यक्ति को बड़ा बना देती है
छोटा सा आदमी कब बड़ा बन जाए
यह कोई नहीं जानता
छोटी छोटी आशाये तृष्णा का कारण है
छोटे छोटे यत्नो से ही होता हर समस्या का निवारण है
छोटे लोगो के छोटे प्रयास कब बड़ा काम कर दे
बड़ो को पता भी नहीं चलता
ह्रदय का छोटापन संकीर्णता का जनक है
इसलिए किसी को छोटा मत समझो
और स्वयम को बड़ा मत समझो
छोटा व्यक्ति बड़े काम का है
बड़ा व्यक्ति तो तो बस नाम का है
छोटा काम करने में कभी छोटा मत मानो
छोटे व्यक्ति के छोटे कार्य कि महत्ता को पहचानो

2 Comments

  1. s n singh says:

    chhote kaam kee bajaay khote kaam se virat rahen to shreyaskar ho!

  2. Aristide says:

    Your ponistg lays bare the truth

Leave a Reply