« »

“जिस तरह…”

1 vote, average: 4.00 out of 51 vote, average: 4.00 out of 51 vote, average: 4.00 out of 51 vote, average: 4.00 out of 51 vote, average: 4.00 out of 5
Loading...
Hindi Poetry, Uncategorized

जिस तरह…
बिन पैसे व्यापार…
देश बिना लाचार…
चुनाव बिना प्रचार…
लड़े बिना हुई हार…
गाँधी बिना विचार…
डोली बिना कहार…
पोषण बिना आहार…
थाली बिना अचार…
अस्पताल बिना बीमार…
दोस्ती बिना व्यवहार…
फूलों बिना कोई हार…
अधूरे हैं…

ठीक उसी तरह…
संघर्ष बिना जीवन-सार…
अधूरा है…

4 Comments

  1. s n singh says:

    bahut khoob.

  2. Vishvnand says:

    Rachanaa kii abhivyakti
    prabhaavii aur paripoorn hai …
    Hardik badhaaii

Leave a Reply