« »

मुबारक दीवाली हो .

0 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 5
Loading...
Hindi Poetry
 ज्योति  पर्व  यह  भरे  उजाला  जीवन  में  भरपूर .रोग  शोक  चिंता  विषाद  सब  रहें  आप  से   दूर .

मुबारक  दीवाली  हो .

इच्छाओं  के  सुमन खिलें   सब  सुरभि  चतुर्दिक  फैले .

निर्मल  हो  जाएँ  अरियों  के  भी  सारे  मन  मैले .

मुबारक  दीवाली  हो .

लक्ष्मी  और  सरस्वति  दोनों  कृपा  आप  पर  रक्खें

सिर्फ  सफलता  के फल  प्रियवर  आप  हमेशा  चक्खें

मुबारक  दीवाली  हो .

विघ्नविनाशक  विघ्न  सकल  से  करें  आप  की  रक्षा .

सूर्य  चन्द्रमा  से  भी  ऊंची  रहे  आप  की  कक्षा .

मुबारक  दीवाली  हो .

आप स्वयं सत्कर्म निरत हों सुयश कीर्ति के भागी,

आकांक्षा  परिपूर्ण  सभी हों जो जो हो मनमांगी.

मुबारक  दीवाली  हो .

One Comment

  1. Vishvnand says:

    बहुत ही सुन्दर अर्थपूर्ण और मनभावन दिवाली और नव वर्ष की है ये मुबारकबाद .
    आपके लिए भी ऐसी ही फले ये है दुआ और हमारा आपको बहुत बहुत धन्यवाद …

Leave a Reply