« »

A beautiful lady

1 vote, average: 4.00 out of 51 vote, average: 4.00 out of 51 vote, average: 4.00 out of 51 vote, average: 4.00 out of 51 vote, average: 4.00 out of 5
Loading...
Aug 2011 Contest, Hindi Poetry

मेरी बूढी आँखें तो

तेरी ख़ुशी देखती हैं

 

हैं उम्र के पड़ाव पे,

चमक उठती हैं पर

जब तेरी एक

झलक देखती हैं..

 

मेरी बूढी आँखें तो

तेरी ख़ुशी देखती हैं

 

कभी चला था तू

मेरी ऊँगली पकड़ कर

हाथो में वो छोटे

हाथ रख कर,

हो ना  जायें यादें कच्ची,

यादों को याद कर

फिर सेंकती हैं..

 

मेरी बूढी आँखें तो

तेरी ख़ुशी देखती हैं..

 

है वक़्त ये थोडा,

मेरे लिए

मेरे पास भी ,

तेरे पास भी,

आसरा कुछ पल का

तेरे साथ देखती हैं

 

मेरी बूढी आँखें तो

तेरी ख़ुशी देखती हैं..

 

 

 

4 Comments

  1. Vishvnand says:

    Very imaging
    Liked much

  2. siddha Nath Singh says:

    सुस्वागतम , परन्तु भूड़ी से क्या मतलब , भूरी या बूढी, स्पष्ट कीजियेगा.

Leave a Reply