« »

“बू”

3 votes, average: 4.33 out of 53 votes, average: 4.33 out of 53 votes, average: 4.33 out of 53 votes, average: 4.33 out of 53 votes, average: 4.33 out of 5
Loading...
Hindi Poetry

बू

अजी चुप हो जाओ,

हमेशा तुम मेरे लाड़ले को डाँटते रहते हो,

इतना भी नहीं समझते हो कि वह बेटा है,

वही बनेगा हमारे बुढ़ापे का सहारा,

देख लेना एक दिन वह गुलाब सा महकेगा,

एक दिन वह सब कर दिखायेगा,

जो तुम अपनी पूरी जिन्दगी में नहीं कर पाये ।

 

 

अजी सु्नती हो…

तुम ठीक कहती थी,

आज तुम्हारा बेटा बडा़ हो गया,

आज वह अपने पैरों पर खडा़ हो गया,

उसने आज वो सभी कर्म कर डाले,

जिनसे मैं जिन्दगी भर  बचता रहा,

जरा बताओ तो,

कहाँ रह गयी वो गुलाबों वाली खुशबू ,

मुझे तो लगता है-

हमारे बुढ़ापे के सहारे से बू आ रही है ।

 

 ***** हरीश चन्द्र लोहुमी

10 Comments

  1. rajivsrivastava says:

    jab aisa hota hai to ma baap bahut hara hua mahsoos karte hai.bahi hi marmsparshi rachna hai—ek katu satya–bahut badiya harish ji

  2. Vishvnand says:

    बहुत प्रभावी कटाक्ष और चेतावनी
    ऐसा न हो इसके लिए बहुत जरूरी है छुटपन से खबरदारी
    मातपिता की समझदारी और समझवाली देखरेख और निगरानी …..

    Commends for the poem.
    Liked very much

    • Harish Chandra Lohumi says:

      @Vishvnand, कमेन्ट का शुक्रिया सर ! आपका आकलन बिलकुल सही है ।

  3. siddha nath singh says:

    क्या बात है, निराला अंदाज़े बयान.

  4. P4PoetryP4Praveen says:

    आपकी रचना की बू हमें खींच ही लायी हरीश जी… 🙂

    भावपूर्ण, अर्थपूर्ण रचना के लिए गुलाबों की ख़ुशबू के साथ 5 ***** सप्रेम भेंट… 🙂

    वैसे इस मामले में माता-पिता को भी गीता का अनुसरण करना चाहिए…निस्वार्थ कर्म-कर्तव्य किये जाओ, फल की चिंता मत करो…हम सब तभी सुखी रह सकेंगे…जहाँ इसके विपरीत परिणाम की आशा में किया गया कर्म अवश्य ही व्यर्थ जाता है… 🙂

    • H.C.Lohumi says:

      @P4PoetryP4Praveen,
      अजी सुनते हो !
      मुह मीठा कराओगे !
      प्रवीण जी आये हैं बहुत दिनों के बाद ! 🙂

      • P4PoetryP4Praveen says:

        @H.C.Lohumi, मुँह तो हमारा मीठा ही है…उस दिन आपने जो दो कड़क-पीले आम खिलाये थे ना… 🙂 😉

  5. H.C.Lohumi says:

    अजी सुनते हो !
    मुह मीठा कराओगे !
    प्रवीण जी आये हैं बहुत दिनों के बाद ! 🙂

Leave a Reply