« »

Merry Chritmas!

0 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 5
Loading...
Hindi Poetry

MERI CHRISSMASS MEIN TU NAHIN SHAYAD,
KYON TERA INTEZAR KARTA HOON..?

7 Comments

  1. U.M.Sahai says:

    nice one. welcome to p4poetry.com club

  2. Vishvnand says:

    अच्छी है, क्रिसमस और किस्मत
    शायद क्रिसमस में किस्मत खुल जाय, क्या पता.
    p4poetry पर आपका स्वागत

  3. medhini says:

    Lovely. Welcome to our site.
    Write more and more, Shailesh.

  4. Shailesh Mohan Sahai says:

    Thanx a lot for your loving gesture.

  5. Shailesh Mohan Sahai says:

    Thanx for your gesture.

  6. Reetesh Sabr says:

    सहाय जी, अव्वल तो बड़ा मज़ा आ गया गाने की लाइन में बुनी आपके अति-संक्षिप्त काव्य पहल…में दखल कर के!

    ज़रा सी लाइन है पर यक़ीन मानिए रंग हज़ार उभर गए मायनों के, जज़्बात के.

    स्वागतम, आपकी अनूठी कलम को!

Leave a Reply