« »

अर्पित है श्रद्धांजलि………

0 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 5
Loading...
Crowned Poem, Hindi Poetry

२६/११ को जिन्होंने जान गंवाई उन सभी वीरों को अर्पित है श्रद्धांजलि………

काम ना आई दहशत,
तोड़ दिया उनका घमंड,
खत्म कर शैतानो को,
दिया उन्हें उचित दंड,

जिन्होंने जान गंवाई,
उन्हें सलाम हमारा,
बस बहुत हो गया,
फिर ना हो २६/११

वीर जवानों के प्राणों की,
चुकाई हमने कीमत,
फिरसे ‘कसाब’ बनने की,
करे ना कोई हिम्मत,

आतंक से डटकर लड़ेंगे,
है सबने कमर कस ली,
कुर्बानी को ना भूलेंगे,
अर्पित है श्रद्धांजलि………

16 Comments

  1. Parespeare says:

    will never forget this date ever

  2. Vishvnand says:

    बहुत आत्मीयता से लिखी आदर भारी श्रद्धांजलि,
    प्रशंसनीय रचना और कामना ,
    A heartfelt tribute to martyrs of 26/11

  3. sushil sarna says:

    इस रचना के लिए सैल्यूट – प्रशंसनीय रचना-बधाई

  4. Preeti Datar says:

    We will never forget! And we should not…..brilliant ode to the worthy…

  5. c k goswami says:

    एक अति सुन्दर रचना ,जिसे आज ही पढ़ पाया.सुन्दर रचना के लिए साधुवाद.

  6. medhini says:

    A nice poem of triibute. Congrats.

  7. rajdeep says:

    gr8 dear
    its really very nice poem

  8. Raj says:

    इस रचना के लिए आपको स-आदर नमन.

Leave a Reply


Fatal error: Exception thrown without a stack frame in Unknown on line 0