« »

बेटियां

1 vote, average: 5.00 out of 51 vote, average: 5.00 out of 51 vote, average: 5.00 out of 51 vote, average: 5.00 out of 51 vote, average: 5.00 out of 5
Loading...
Hindi Poetry

     HAPPY   WOMAN’S   DAY             

                      ”  बेटियां

कोमल-सी टहनी होती है किसी वृक्ष की ,
मगर इरादें तने-सा सख्त रखती है बेटियां !
मुस्कुराहट से अपनी महकाती है घर को ,
ऐसी प्यार भरी पाती होती है बेटियां !
ख़ुशी और गम का हर रिश्ता निभाती है वो ,
रिश्तों को एक माला में पिरोती है बेटियां !
आज भी बेटी को बोझ समझते है कुछ लोग ,
लेकिन बेटों से कम नहीं होती है बेटियां !
            
                                         – सोनल पंवार  

14 Comments

  1. Raj says:

    सही कहा सोनल जी, और जो लोग बेटियों को बोझ मानते हैं, वो ये नहीं जानते कि वो क्या खोते हैं हर उस पल, जिस पल वो ऐसा सोचते हैं.

  2. kalawati says:

    ख़ुशी और गम का हर रिश्ता निभाती है वो ,
    रिश्तों को एक माला में पिरोती है बेटियां !
    wah sonal dil le liya in lines ne.

  3. Really great…
    आज भी बेटी को बोझ समझते है कुछ लोग ,
    लेकिन बेटों से कम नहीं होती है बेटियां !

  4. vartika says:

    sach kaha aapne ….बेटों से कम नहीं होती है बेटियां ! acchi rachnaa hai!

    bas ek baat…”इरादें तने-सा” nahin hoga… tane “se” hoga…ya phir yadi tana saa hi rakhnaa chahti hain to “irade” ko “irada” kar dijiye….

  5. Vishvnand says:

    Sonal,
    बहुत ही सुन्दर मनभावन कविता,
    इस दिवस के प्रति.
    बधाई

    कौन कहता है बेटों से कम होती है बेटियाँ,
    बेटों जैसी ही होती हैं, माँ बाप को बेटियाँ,
    और कई गुणों में बेटों से बढ़कर होती हैं बेटियाँ …..!
    ये असल सत्य है

  6. Seema says:

    Good one Sonal!

  7. Sona ji
    Very good sonal ji
    आज भी बेटी को बोझ समझते है कुछ लोग ,
    लेकिन बेटों से कम नहीं होती है बेटियां !
    Bilkul sahi, lekin betion ki apni jagah aur beton ki apni jagah 1 alag ahmiyat hoti hai

  8. dr.paliwal says:

    Bahut Sundar Sonalji….
    Main Sirji se sahmat hun….

  9. dr.paliwal says:

    KUCH GADBAD HAI MAINE JO COMMENT LIKHA WAH RAVIJI KE NAM KE NICHE AAYA AUR SHAYAD RAVIJI NE LIKHA HUA MERE NAM KE NICHE..

    Bahut Sundar Sonalji….
    Main Sirji se sahmat hun….

  10. Parespeare says:

    very nice poem Sonalji

  11. rajdeep says:

    sonal ji a very gud write
    and yesterday was the woman’s empowerment day
    and i think u dedicated this poem to adolescent gals or women.
    again very nice

  12. Daljeet Singh says:

    आप की कविताये सचमुच संजो कर रखने वाली है…बहुत ही बढ़िया …उम्मीद है इस्सी तरह आप पाठको को उम्दा कविताये देती रहेंगी ..पुनः ….बहुत ही बढ़िया..

  13. Mehar Singh says:

    बिलकुल सही .

Leave a Reply